मुख्यमंत्री के सुरक्षा दस्ते में तैनात कमांडो ने गोली मारकर की खुदकुशी

Share this news

DEHRADUN: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के सुरक्षा दस्ते में तैनात कमांडो ने गोली मारकर खुदकुशी कर ली। बताया जा रहा है कि गुरुवार करीब दो बजे कमांडो ने सीएम आवास के सिक्योरिटी बैरक में खुद को गोली मार दी। उधर पुलिस के मुताबिक ये आत्महत्या है या गलती से फायरिंग होने से हुई घटना है, इस पर जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

जानकारी के अनुसार कमांडो का नाम प्रमोद रावत है, वह पौड़ी जिले के अगरोड़ा गांव का रहने वाला था। बताया जा रहा है कि कमांडो अक्सर तनाव में रहता था और छुट्टी की मांग कर रहा था। भागवत में जाने के लिए छुट्टी न मिलने पर उसने खुद की सर्विस राइफल से गोली मारकर अपनी जिंदगी खत्म कर ली। इस घटना से सीएम आवास के कर्मचारियों में भी हड़कंप है। आनन फानन में पुलिस के सभी आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और तफ्तीश में जुटे।

कमांडो प्रमोद रावत की मौत पर पुलिस विभाग का भी बयान सामने आया है। मुख्यमंत्री के विशेष प्रमुख सचिव श्री अभिनव कुमार ने जानकारी दी है कि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि कमांडो की मौत आत्महत्या से हुई या गलती से गोली चलने से हुई है। अभिनव कुमार के मुताबिक ये भी सम्भव है कि AK47 राइफल की सफाई के दौरान गलती से गोली चल गई हो। इसलिए फोरेंसिक जांच और पोस्टमॉर्टम के बाद ही घटना का कारण स्पष्ट हो पायेगा। जानकारी के मुताबिक 16 जून से प्रमोद की दादी का भागवत होना था जिसके लिए वह छुट्टी चाहता था। देहरादून एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर के मुताबिक प्रथमदृष्ट्या ये एक्सीडेंटल फायरिंग का केस लग रहा है। फिलहाल पुलिस सभी एंगल से जांच कर रही है।

(Visited 479 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In