भारी बारिश से टनकपुर, बनबसा खटीमा में बाढ़ जैसे हालात, सीएम के आदेश राहत कार्यों में तेजी दिखाएं

Share this news

CHAMOLI/CHAMPAWAT : बदरीनाथ उपचुनाव के लिए गोपेश्वर पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम यात्रा के संचालन और प्रदेश में मानसून के कारण आपदा प्रबंधन पर अफसरों से चर्चा की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री से यात्रा रूट के स्थानीय व्यापारियों ने भी भेंट की और अपनी समस्याएं रखने के साथ ही सुझाव भी मुख्यमंत्री को दिए। मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कुमाऊँ कमिश्नर, चम्पावत, ऊधम सिंह नगर और पिथौरागढ़ के जिलाधिकारियों के साथ क्षेत्र में हुई अत्यधिक वर्षा, इससे हुए नुकसान एवं राहत व बचाव कार्यों के संबंध में समीक्षा बैठक की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को राहत व बचाव कार्यों में तेजी लाने, विभागों को आपसी सामंजस्य बना कर कार्य करने एवं हर संभावित परिस्थिति के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए।

भारी बारिश से खटीमा, टनकपुर, बनबसा में जलभराव औऱ बाढ़ जैसे हालात पर भी सीएम धामी नजर बनाए हुए हैं। सीएम ने गोपेश्वर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कुमाऊँ कमिश्नर, चम्पावत, ऊधम सिंह नगर और पिथौरागढ़ के जिलाधिकारियों सहित अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ क्षेत्र में हुई अत्यधिक वर्षा, इससे हुए नुकसान एवं राहत व बचाव कार्यों के संबंध में समीक्षा बैठक की। सीएम ने कहा कि हर स्थिति से निपटने के लिए सिस्टम तैयार रहे। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि बच्चों, महिलाएं एवं बुजुर्गों विशेषकर गर्भवतियों के रहने, खाने-पीने एवं दवाओं आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

इसके अलावा चारधाम यात्रा पर व्यापारियों की समस्याओं से अवगत होते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि धामों में श्रद्धालुओं की अनियंत्रित भीड़, अप्रिय घटनाओं की आशंका और संसाधनों की क्षमता के आधार पर रजिस्ट्रेशन व्यवस्था को लागू किया गया है। उन्होंने कहा कि यात्री सुविधा और सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। मुख्यमंत्री ने व्यापारी बंधुओ को आश्वस्त करते हुए कहा कि पर्यटन और तीर्थाटन हमारी आर्थिकी का महत्वपूर्ण स्रोत है जिस कारण दुर्गम यात्रा मार्गों पर भी स्थानीय निवासियों को रोजगार मिलता है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार यात्रा से जुड़े प्रत्येक व्यवसायी के उन्नयन हेतु सदैव चिंतित है।

 

 

(Visited 137 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In