हेमकुंड साहिब के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना, सीएम ने किया चारधाम पंजीकरण कार्यालय का उद्घाटन

Share this news

Rishikesh: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ऋषिकेश में चारधाम यात्रियों के लिए लगभग 22.25 करोड़ रुपये की लागत से पंजीकरण कार्यालय शिविर का उद्घाटन किया। इससे पहले हेमकुंड साहिब के लिए सिख श्रद्धालुओं का पहला जत्था आज बुधवार को ऋषिकेश गुरुद्वारा से रवाना हुआ। पहले जत्थे में करीब 250 यात्री शामिल हुए।

#CharDhamYatra के लिए रजिस्ट्रेशन ऑफिस कम ट्रांजिट कैम्प 22.5 करोड़ क लागत से बना है, जबकि इसी के समीप चन्द्रभागा नदी पर लगभग 4.71 करोड़ रुपए से आस्था पथ निर्मित किया गया है। सीएम ने सी.सी. मार्ग के निर्माण कार्य का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने इस दौरान चारधाम यात्रियों की सुविधा के दृष्टिगत किए जा रहे सभी कार्यों का निरीक्षण भी किया। इस अवसर पर उन्होंने ट्रांजिट कैम्प में चिकित्सालय, पंजीकरण कार्यालय, पूछताछ एवं सहायता केन्द्र का अवलोकन किया और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि यात्रियों की सुविधा के दृष्टिगत सभी व्यवस्थाएं अच्छी रखी जाएं। यात्रियों के साथ शालीनता पूर्वक व्यवहार किया जाए।

इससे पहले राज्यपाल ले.ज.(सेनि.) गुरमीत सिंह, सीएम पुष्कर सिंह धामी ने हेमकुंड साहिब के यात्रियों के पहले जत्थे को रवाना किया। इससे पहले उन्होंने श्रद्धालुओं के साथ गुरुद्वारे में अरदास की। हेमकुंड साहिब यात्रा पर जाने वाले पहले जत्थे में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान के श्रद्धालु शामिल हैं। हेमकुंड यात्रा पर जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए पर्यटन विभाग की ओर से लक्ष्मणझूला स्थित गुरुद्वारे में पंजीकरण केंद्र खोल दिया गया है। चारधाम यात्रा के पंजीकरण प्रभारी प्रेमानंद ने बताया कि पंजीकरण केंद्र में तीन काउंटर होंगे। यह केंद्र सुबह पांच बजे से रात दस बजे तक खुले रहेंगे। कर्मचारी यहां दो शिफ्टों में काम करेंगे।

सीएम धामी ने कहा कि हेमकुंड साहिब यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं की गई हैं। आप सभी चारधाम एवं श्री हेमकुंड साहिब की यात्रा शुरू करने से पहले अपना स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य करवाएं। देश-विदेश से यात्रा हेतु देवभूमि उत्तराखण्ड आने वाले सभी श्रद्धालुओं का हार्दिक स्वागत एवं अभिनन्दन

(Visited 54 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In