नेता के बिगड़ैल बेटे ने पहाड़ की बेटी अंकिता को उतारा मौत के घाट, चीला नहर में फेंका शव, पुलकित आर्य समेत 3 गिरफ्तार

Share this news

Rishikesh: जिस का डर था वही हुआ। पहाड़ की एक बेटी रसूखदार, बिगड़ैलों की अय्याशी की भेंट चढ़ गई। यमकेश्वर क्षेत्र के गंगा भोगपुर स्थित रिसॉर्ट में संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुई रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी की हत्या कर उसका शव चीला नहर में फेंक दिया गया। (3 arrested in Ankita bhandari murder case) पुलिस ने रिसॉर्ट मालिक पुलकित आर्य, प्रबंधक सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता को गिरफ्तार किया है। मुख्य आरोपी पुलकित हरिद्वार के भाजपा नेता विनोद आर्य का बेटा है। बताते चलें कि 19 सितंबर की सुबह अंकिता अपने कमरे में नहीं मिली। जिसके बाद उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। अंकिता के शव की तलाश अभी जारी है।

ग्राम श्रीकोट, पट्टी नादलस्यूं, पौड़ी गढ़वाल निवासी 19 वर्षीय अंकिता भंडारी यमकेश्वर के गंगा भोगपुर के वनन्तरा रिसोर्ट में काम करती थी। लेकिन 18 सितंबर के बाद से उसका कोई पता नहीं चला। गुमशुदगी के सम्बन्ध में राजस्व पुलिस चौकी उदयपुर तल्ला में मुकदमा दर्ज हुआ था। मामला सामने आने के बाद पहले तो प्रशासन ने बेहद लापरवाही बरती। पटवारियों की हड़ताल के कारण 4 दिन तक कोई हलचल नहीं हुई। राजस्व पुलिस ने मामले को लटकाए रखा। परिजनों के दबाव के बाद घटना के 5वें दिन मामला 22 सितंबर को डीएम पौड़ी गढ़वाल ने इस मुकदमे को राजस्व पुलिस से थाना लक्ष्मणझूला पुलिस को स्थानान्तरित करने के आदेश दिए। अपर पुलिस अधीक्षक पौड़ी शेखर सुयाल के नेतृत्व में टीम का गठन कर मामले की जांच शुरू की गई थी।

मामले की गंभीरता को देखते हुए लक्ष्मणझूला पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए 24 घंटे के अन्दर तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर केस वर्कआउट कर लिया। एडिशनल एसपी शेखर सुयाल ने बताया कि अंकिता भंडारी का मर्जर किया गया और उसे आरोपियों ने चीला नहर में धक्का फेंक दिया। अंकिता का शव अभी तक बरामद नहीं हुआ है। इस मामले में रिजॉर्ट मालिक भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य, मैनेजर सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है।

उधर अंकिता की हत्या की खबर के बाद स्थानीय लोग बड़ी तादात में वनन्तारा रिजॉर्ट के बाहर इकट्ठे हुए हैं। लोगों में इस घटना को लेकर आक्रोश है। लोगों की मांग है कि बुल्डोजर चलाकर इस रिजॉर्ट को नेस्तानबूत किया जाए और दोषियों को जल्जद से जल्द फांसी की सजा दी जाए।

 

 

 

 

 

(Visited 3899 times, 88 visits today)

You Might Be Interested In