उत्तरकाशी में भारी बारिश से मकान गिरा, महिला की मौत, केदारनाथ मार्ग पर भूस्खलन से बढ़ा खतरा

Share this news

Dehradun :  उत्तराखंड में मानसून जाते जाते कहर बरपा रहा है। गुरुवार को भारी बारिश की चेतावनी के साथ कई जगह तेज बारिश और भूस्खलन से जनजीवन अस्त व्यस्त है। उत्तरकाशी में एक आवासीय भवन क्षतिग्रस्त होने से  65 साल की महिला की मलबे में दबने से मौत हो गई। (1 women killed many road blocked due to heavy rain and landslide)  केदारनाथ हाइवे पर तरसाली के नजदीक भूस्खलन के कारण यात्रियों की जान बाल बाल बची। मार्ग फिलहाल खुल गया है, लेकिन खतरा बना हुआ है।

बुधवार से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण देर शाम रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राष्ट्रीय राजमार्ग फाटा के समीप तरसाली में भारी मलबा आने से बाधित हो गया है। जिस कारण वाहनों की दो तरफा लंबी कतार लग गई हैं। घंटों की मशक्कत के बाद मार्ग खोल दिया गया है लेकिन पहाड़ी से मलबा गिरने का खतरा अभी बना हुआ है। हाइवे पर भूस्खलन का एक खौफनाक वीडियो सामने आया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि जिस वक्त पहाड़ी से मलबा आ रहा है उस वक्त वहा कई वाहन फंसे थे। गनीमत रही कि कोई वाहन मलबे की चपेट में नहीं आया। रुद्रप्रयाग जिले में कई जगह भारी बारिश के कारण मार्ग बाधित चल रहे हैं।

गोगत्री मार्ग पर भी हेल्गू गाड़ व सुनगर के बीच जगह जगह पत्थर गिरने के कारण बाधित हो रहा है। इस दौरान सुनगर व गंगनानी में फंसे करीब दो हजार तीर्थयात्रियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

उधर बुधवार रात को उत्तरकाशी के चिन्यालीसौड़ में भारी बारिश के कारण कुमराड़ा गांव के मुंडरा नामे तोक में एक मकान क्षतिग्रस्त हो गया। मलबे में दबने से गांव की भट्टू देवी (65) पत्नी जुरूलाल की मौत हो गई। आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि मलबे में दबने से एक महिला की मौत हुई है। महिला के शव को मलबे से निकाला जा रहा है।

राजधानी देहरादून के कई इलाकों में भी मूसलाधार बारिश से पानी भर गया है। आईएसबीटी के नजदीक चंद्रबनी कालोनी में लोगों के घरों में पानी घुस गया है।

(Visited 384 times, 32 visits today)

You Might Be Interested In