उत्तराखंड: 1 अप्रैल से सस्ती होगी शराब, भवन का नक्शा पास कराना हुआ आसान, कैबिनेट के फैसले

Share this news

Dehradun: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में नई आबकारी नीति को मंजूरी मिल गई है। नई नीति के तहत उत्तराखंड में 1 अप्रैल से शराब सस्ती होगी।इसके अलावा कैबिनेट ने एक मंजिला भवन के नक्शे पास कराने की प्रक्रिया को आसान बना दिया है।

देशी विदेशी शराब सस्ती
कैबिनेट ने 2022-23 के लिए शराब नीति को मंजूरी दे दी है। शराब तस्करी रोकने व राजस्व बढ़ाने के उद्देश्य से यह फैसला लिया गया है। उत्तराखंड और यूपी के बीच अलग-अलग ब्रांड की शराब के दामों के बीच अब केवल 20 रुपये तक का अंतर रहेगा। पहले यह अंतर 100 से 200 रुपये तक का था।इस तरह राज्य में एक अप्रैल से देशी-विदेशी शराब के दाम 100 से 300 रुपये तक सस्ते हो जाएंगे। शराब की प्रति बोतल पर गोवंश संरक्षण के लिए प्रति बोतल एक रुपये सेस लिया जाएगा। जबकि खिलाड़ियों के कल्याण के लिए भी प्रति बोतल एक रुपये और महिला कल्याण के लिए भी प्रति बोतल एक रुपये सेस लिया जाएगा।
वर्ष 2023- 24 के लिए आबकारी राजस्व लक्ष्य को 4000 करोड़ रखा गया है। पूर्व में आवंटित शराब की दुकानों में वर्ष 2023 – 24 हेतु विदेशी मदिरा में 10% तथा देशी मदिरा में 15% पूर्व में निर्धारित राजस्व के अतिरिक्त लिए जाने पर उनका नवीनीकरण किया जा सकेगा।

कैबिनेट ने कोसी और गोला नदी में चलने वाले वाहनों के फिटनेस शुल्क को लेकर भी फैसला किया है। इस मसले पर मुख्यमंत्री पूर्व में विचलन से निर्णय ले चुके थे। इसके तहत एक साल तक वाहनों की फिटनेस के लिए पुराना शुल्क लिया जाएगा।एक साल बाद वाहनों की फिटनेस के लिए नया शुल्क लागू होगा।

कैबिनेट ने नक्शा पास कराने की प्रक्रिया सरल बनाई है। उत्तराखंड में एकल आवास के नक्शे पास कराने की प्रक्रिया आसान हुई। नक्शे के लिए एफिडेविट के साथ आवेदन कर सकते हैं। यदि किसी को अप्रूव्ड लेआउट एरिया में एकल घर बनाना हो तो वह सेल्फ सर्टिफिकेशन के आधार पर घर का नक्शा विकास प्राधिकरण में जमा कराएगा। 7 दिन में नक्शे में आपत्ति नहीं जताए जाने की स्थिति में नक्शे को पास माना जाएगा और वह अपना घर बनाना शुरु कर सकेगा।

(Visited 619 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In