भारी बारिश से उत्तरकाशी, पौड़ी में कहर, बादल फटने से स्टेट हाइवे-32 का हिस्सा बहा

Share this news

रैबार डेस्क: उत्तराखंड में मॉनसून ने अभी दस्तक भी नहीं दी, लेकिन बारिश ने अपना कहर बरपाना शुरू कर दिया है। उत्तरकाशी और पौड़ी जिले में भारी बारिश से गाड़ गधेरे उफान पर हैं। पौड़ी के राठ क्षेत्र में बादल फटने और बारिश के बाद बाढ़ जैसे हालात हैं। बारिश से खेतों को बड़ा नुकसान पहुंचा है। हालांकि जनहानि की कोई ख़बर नहीं है।

गढ़वाल क्षेत्र में झमाझम बारिश हो रही है। उत्तरकाशी जिले के चिन्यालीसौड़ ब्लॉक में बारिश का कहर देखने को मिला। यहां गढ़वालगाड गांव के बौणी तोक में बारिश के पानी के साथ आया मलबा कई घरों और दुकानों में घुस गया।बताया जा रहा है कि एक भैंस की भी मलबे में दबकर मौत हो गई।

राठ क्षेत्र में बारिश का कहर
भारी बारिश का कहर पौड़ी जिले के राठ क्षेत्र , चौबट्टखाल, बीरोखाल और एकेश्वर में भी दिखा। चौबट्टख़ाल ब्लॉक के फरसाड़ी गाँव और आसपास में भारी बारिश से कई घरों को नुक़सान होने की ख़बर है।
उधर राठ के बैजरो, थैलीसैन में बादल फटने के बाद बाढ़ जैसे हालात हैं। बैजरो में नयार में उफान आ गया है। एकेश्वर में भारी बारिश के बाद पचराड गधेरा भी उफान पर है। बारिश के कारण घरों और खेतों को काफी नुकसान पहुंचा है।बी

रोंखाल में फरसाड़ी गांव बारिश से प्रभावित हुआ है। यहां स्टेट हाईवे 32 पर किलोमीटर 110 पर 30 मीटर सड़क वॉशआउट हो गई है। इसके अलावा किलोमीटर 9 से 11 के बीच तीन से चार जगह पर मलवा सड़क पर आ गया है। जिलाधिकारी ने राजस्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्राथमिक तौर पर प्रभावित बताए जा रहे सुखई व फरसाडी गांवों में आवश्यकता अनुसार प्राथमिक विद्यालयों या पंचायत घरों में ठहरने की व्यवस्था, फूड पैकेट, पेयजल व्यवस्था तथा डॉक्टर की एक टीम को रवाना करने के निर्देश दिए हैं। ग्राम सुकई में अतिवृष्टि से 20 घरो में पानी घुस गया है और कुछ गौशाला में भी पानी का भरान हुआ है।

बैजरों क्षेत्र में भारी बारिश के कारण भारी नुकसान की खबर आ रही है। यहां तेज बारिश से लोगो के खेत पानी के तेज बहाव से बरबाद हो गये हालांकि बारिश के कारण जनहानि नही हुई है।

(Visited 38 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In