कॉर्बेट सिटी में G20 बैठक की धूम , मेहमानों को भाया पिछौड़ा, पहाड़ी टोपी, छोलिया की धुन पर थिरके विदेशी 

Share this news

RAMNAGAR:  उत्तराखंड में जी 20 देशों की महत्वपूर्ण बैठक का मंगलवार को आगाज हो गया। कॉर्बेट सिटी रामनगर में 28 से 30 मार्च तक जी 20 देशों के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकारों के बीच राउंडटेबल मीटिंग होगी। इसमें विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी से संबंधित आपसी हित के मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। इस दौरान कई सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। बैठक में शामिल होने 17 देशों के 38 प्रतिनिधि सोमवार दोपहर पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचे जहां पारंपरिक रीति रिवाज के साथ उनका स्वागत किया गय।

मेहमानों के एयरपोर्ट पहुंचने पर उन्हें टीका लगाया गया औऱ पारंरिक पहाड़ी चोपी पहनाई गई। महिला प्रतिनिधियों को कुमाउंनी पिछौड़ा ओढ़ाकर स्वागत किया गया। इस दौरान मेहमानों के स्वागत में छोलिया नृत्य प्रस्तुत किया गया। छोलिया की धुन पर कुछ विदेशी मेहमान इतने खुश हुए कि वहां पर थिरकने लगे। इसके बाद मेहमान 20 वीआईपी बसों में सवार होकर होटल के लिए रवाना हो गए। और शाम को को रामनगर मीटिंग के लिए पहुंचे।

जी-20 समिट में शामिल होने के लिए रूस से चार, नाइजीरिया से दो, रिपब्लिक आफ कोरिया से एक, यूनाइटेड स्टेट आफ अमेरिका से दो, ब्राजिल से एक, चीन से दो, यूनाइटेड किंगडम से पांच, जापान से एक, फ्रांस से तीन, इटली से दो, साऊथ अफ्रीका से तीन, स्पेन से एक, आस्ट्रेलिया से एक, नीदरलैंड से दो, यूरोपियन संघ से दो, सऊदी अरब से चार और कनाडा से दो सहित कुल 38 प्रतिनिधि शामिल हैं।

इन बिंदुओं पर होगी भारत की प्राथमिकताएं

  1. हरित, विकास, जलवायु वित्त और लाइफ।
  2. त्वरित, समावेशी और लचीला विकास।
  3. एसडीजी (सबस्टेनिबल डवलपमें गोल्स) पर प्रगति में तेजी लाना।
  4. तकनीकी परिवर्तन और डिजिटल सार्वजनिक अवसंरचना।
  5. 21वीं सदी के लिए बहुपक्षीय संस्थान।
  6. महिलाओं के नेतृत्व में विकास।

 

(Visited 292 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In