गैरसैंण पर हरदा का हल्ला बोल, सांकेतिक धरना, तालाबंदी से सरकार को घेरा

Share this news

Gairsain: पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत गैरसैंण के मुद्दे पर मुखर हैं। गुरुवार कोगैरसैंण पहुंचने पर हरीश रावत ने गैंरसैंणकी उपेक्षा पर सरकार को कटघरे में खड़ किया। ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने के बावजूद गैरसैंण में विधानसभा सत्र न कराने और (harish rawat stage protest against govt for neglecting gairsain) राजधानी की दिशा में कोई कदम उठाने को लेकर हरीश रावत ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। विरोध प्रदर्शन करते हुए हरीश रावत ने यहां तहसील परिसर में सांकेतिक रूप से तालाबंदी की।

इस दौरान हरीश रावत ने कहा कि कांग्रेस सरकार के दौरान भराड़ीसैण में विधानसभा भवन की नींव रखी और इसे तैयार किया गया, जबकि भाजपा सरकार स्थायी राजधानी का शिगूफा लेकर आई थी और ग्रीष्मकालीन राजधानी पर जाकर अटक गई। लेकिन ग्रीष्मकालीन राजधानी की घोषणा के बाद भी अब तक यहां पर न तो विधानसभा सत्र करा पाई है और न ही राजधानी चला पाई है।

इस दौरान उनके साथ पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद कुंजवाल, पूर्व विधायक मनोज रावत, अल्मोड़ा विधायक मनोज तिवारी, पूर्व राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा, मुकेश नेगी, जिलाध्यक्ष कांग्रेस चमोली बीरेंद्र रावत मौजूद रहे।

summer capi

(Visited 200 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In