बाबा नींब करौली के दर्शनों को उमड़ी भक्तों की भीड़, धूमधाम से मनाया जा रहा है कैंची धाम का प्रतिष्ठा दिवस  

Share this news

Kainchi Dham Nainital:  विश्व प्रसिद्ध कैंची धाम की रंगत फिर लौट आई है। विगत दो साल से कोरोना के कारण कैंची धाम का स्थापना दिवस समारोह आयोजित नहीं हुआ था। लेकिन इस बार आयोजित भंडारे में भक्तों का जनसैलाब उमड़ रहा है। सुबह चार बजे से ही कैंची धाम के आसपास बाबा नींब करौरी (नीम करौली) के दर्शनों के लिए भक्तों की भारी भीड़ जुटने लगी। मंदिर ट्रस्ट भक्तजनों के लिए व्यवस्थाएं बनाने में जुटा है।

बाबा नींब करौरी महाराज को भोग लगाने के साथ कैंची मेले में सुबह से श्रद्धालुओं का तांता लगना शुरू हुआ। 11 बजे तक ही 25 हजार से ज्यादा श्रद्धालुओं ने दर्शन कर लिए। इस बार सवा लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं के पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। बाबा नींब करौली महाराज ने 1964 में 15 जून को कैंची धाम की स्थापना की थी, तब से हर साल 15 जून को कैंची धाम का प्रतिष्ठा दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर भक्तजनों के लिए प्रसाद के लिए मालपुए बनाए जाते हैं।

भक्तों की आस्था है कि बाबा नींब करौरी महाराज स्वयं मंदिर में किसी न किसी रूप में मौजूद हैं। माना जाता है कि बाबा नींब करौरी हनुमान जी के परम भक्त थे। और वे अपने चमत्कारों से भक्तों की पीडा दूर करते थे। भक्तों की भारी भीड़ के चलते अल्मोड़ा नैनीताल मार्ग पर जाम लग रहा है,। व्यवस्था बनाने में पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ रही है।

 

 

 

 

(Visited 207 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In