प्रीतम के नेतृत्व में कांग्रेसियों का सरकार के खिलाफ सचिवालय कूच, दी गिरफ्तारी, हरदा, करन माहरा रहे नदारद

Share this news

DEHRADUN: महिला सुरक्षा, भर्तियों में भ्रष्टाचार, कांग्रेसियों का उत्पीड़न बंद करने जैसे विभिन्न मुद्दों को लेकर कांग्रेस नेता प्रीतम सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों कार्कर्ताओं ने आज सरकार के खिलाफ सचिवालय कूच किया। इस दौरान जहां प्रीतम सिंह के कूच को नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, विपक्ष के उपनेता भुवन कापड़ी और हरक सिंह रावत का साथ मिला, तो हरीश रावत, कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा जैसे बड़े चेहरे प्रीतम के शक्तिप्रदर्शन से गायब दिखे। इससे कांग्रेस में गुटबाजी भी स्पष्ट रूप से दिखी।

प्रीतम सिंह सचिवालय कूच के तय कार्यक्रम के अनुसार कूच से पहले रेंजर्स ग्राउंड में समर्थकों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि जनता ने भाजपा को प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने का मौका दिया। लेकिन पिछले करीब 9 माह में सत्ता में बैठे लोगों ने राज्यवासियों को वो जख्म दिए हैं जो जल्दी नहीं भरेंगे। कहा कि सरकार दिशाविहीन है और उसे जनता से कोई सरोकार नहीं रह गया है। जनता का अहित कांग्रेस बर्दाश्त नहीं करेगी। पार्टी जनता की आवाज पुरजोर ढंग से उठाएगी। जरूरत पड़ी तो इस संघर्ष को और तेज किया जाएगा।

इसके बाद प्रीतम सिंह के साथ सैकड़ों कार्यकर्ता ढोल नगाड़ों और बैंड बाजों के साथ सचिवालय घेराव करने पहुंचे। प्रीतम के काफिले ने दर्शन लाल चौक, घंटाघर और एश्लेहाल होते हुए सचिवालय कूच किया। सरकार के खिलाफ प्रीतम के शक्ति प्रदर्श में शरीक होने नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, उपनेता भुवन कापड़ी, कांग्रेस नेता हरक सिंह रावत भी आए। सचिवालय के पास कांग्रेसियों के जुलूस के पहुंचने पर पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया। जिस पर कई कांग्रेस नेता बैरिकेडिंग पर चढ़ गए। इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों में नोक झोंक भी हुई। इतना ही नहीं कुछ प्रदर्शनकारी ढोल-दमाऊ के साथ प्रदर्शन करने पहुंचे। विवाद बढ़ता देख पुलिस ने प्रीतम सिंह समेत उनेक समर्थकों को गिरफ्तार किया और पुलिस लाइन ले गई।

 

कूच पर कांग्रेसी दिग्गजों का संकोच

प्रीतम सिंह के सचिवालय कूच कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस में बिखराव साफ तौर पर नजर आया। पार्टी प्रवक्ता गरिमा दसौना ने यहा तक कह दिया कि ये कांग्रेस पार्टी का नहीं बल्कि प्रीतम सिंह का व्यक्तिगत कार्यक्रम है। इस कूच से पार्टी अध्यक्ष करन माहरा और वरिष्ठ नेता हरीश रावत ने भी किनारा किया। बताया जा रहा है कि हरीश रावत कल के कार्यक्रम की तैयारियों के लिए दिल्ली गए हैं जबकि करन माहरा का हल्द्वानी में पहले से ही कार्यक्रम प्रस्तावित था। पार्टी के लोग भले ही ये दलीलें दे रहे हों, लेकिन उत्तराखंड कांग्रेस पार्टी के फेसबुक पेज पर प्रीतम सिंह के कूच से संबंधित फोटो और वीडियो पोस्ट करने की जहमत तक नहीं उठाई गई। हालांकि पेज पर प्रीतम की कुछ पोस्ट को शेयर जरूर किया गया है।

 

(Visited 159 times, 1 visits today)

You Might Be Interested In